HSSC JOBS

Latest Govt. Jobs and Admission updates are available here.

Breaking

18 Jul 2018

हरियाणा के प्रमुख लेखक और उनकी पुस्तकें भाग-1

हरियाणा के प्रमुख कवि/ लेखक/ साहित्यकार और उनकी पुस्तकें भाग-1 

हरियाणा के बहुत से लेखकों ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाई है| इनमें से प्रमुख लेखकों और उनकी कृतियों को सूची नीचे दी जा रही है-
1. विशम्भर नाथ कौशिक- मणिमाला, गल्प मंदिर, पेरिस की नर्तकी, प्रेम प्रतिमा, कल्लोल (लघुकथा संग्रह) और माँ तथा भिखारिन (उपन्यास) 
2. बाबू बालमुकुन्द गुप्त- शिवशम्भू का चिट्ठा, चिट्ठे और ख़त 
3. शिवनारायण शास्त्री- छात्र बोधिनी और स्त्री कर्तव्य शिक्षा 
4. छज्जू राम- पाणिनीय हिंदी व्याकरण और कुरुक्षेत्र महात्म्य 
5. श्रीराम शर्मा- हरियाणा के स्वतंत्रता सेनानी, हरियाणा का इतिहास और हरियाणा के नौ रत्न |
6. भदन्त आनंद कोशल्यायन- भिक्षु के पत्र और बहादुर अनुचर आदि 
7. विष्णु प्रभाकर- ढलती रात, स्वप्नमयी, अर्धनारीश्वर, हत्या के बाद, नव प्रभात, डॉक्टर, प्रकाश और परछाइयाँ, संघर्ष के बाद, धरती अब भी धूम रही है, मेरा वतन, खिलोने, आवारा मसीहा
8. निशांतकेतु- आप यहाँ हैं, दुनिया की सबसे हसीन औरत, प्रेतमुक्ति, प्रेरणास्रोत और अन्य कहानियाँ, ब्लैक होल, डायन और अन्य कहानियाँ, खोज, किसनगढ़ के अहेरी, सर्कस, सावधान ! नीचे आग है, धार, पाँव तले की दूब, जंगल जहाँ शुरु होता है, सूत्रधार, आकाश चम्पा, ऑपरेशन जोनाकी, सात समंदर पार
8. राजेंद्र मोहन भटनागर- अज्ञातवास का हमसफर, कुली बैरिस्टर, खुदा गवाह है, गौरैया, तरुण सन्यासी, दलित संत और दिल्ली चलो|
9. डॉ.जयभगवन गोयल- गुरमुखी में हिंदी साहित्य, गुरु गोबिंद सिंह विचार और चिन्तन, मध्य-युगीन काव्य
10. डॉ.शशि भूषण सिंघल- ये युग वे अपने (लघुकथा संग्रह), जानी अनजानी राहें (उपन्यास) आदि 
11. डॉ.जयनाथ नलिन- यामिनी, धरती के बोल, चिंतन और कला, इस पार के बंधन, सिक्के असली और नकली तथा देवयानी आदि |
12. मोहन चोपड़ा- टूटा हुआ आदमी, ये नये लोग, बाहें, नीड़ से आगे, एक छाया और मैं, सुबह से पहले, आधा कटा हुआ सूर्य, पीले पत्ते, शाम और अकेला आदमी, बंद दरवाजा, समय के स्वर आदि|
13. छविनाथ त्रिपाठी- धरा की यात्रा, चम्पूकाव्य का आलोचनात्मक एवं ऐतिहासिक अध्ययन आदि|
14. देवीशंकर प्रभाकर- खड़गपुत्र और गणपुत्र | 
15. सुगनचंद मुक्तेश- स्वाति बूँद, युगान्तर आदि|
16. श्री यशपाल वैद- आस बन्ध गई, समय के साथ-साथ
17. हरिश्चंद्र वर्मा- डॉ. डमरू गोपाल 
18. डॉ.बैजनाथ सिंघल- नयी कविता : मूल्य मीमांसा, अलगाव दर्शन और साहित्य, साहित्य मूल्य और प्रयोग|
19. डॉ. हेमराज निर्मम- करुणा के प्रतिनिधिजीने के लिए, ससुराल की सौगात, वसंत फिर आएगा, टूटता बंधन और लाल बहादुर|
20. ओमप्रकाश आदित्य- तोता-मैना, इधर भी गधे हैं, थर्ड डिवीज़न, सितारों की पाठशाला |
21. अल्हड बीकानेरी-  भज प्यारे तू सीताराम, घाट-घाट घूमे, अभी हंसता हूँ, अब तो आंसू पोंछ, भैंसा पीवे सोमरस, ठाठ ग़ज़ल के, रेत पर जहाज़, अनछुए हाथ, खोल न देना द्वार, जय “मैडम” की बोल रे, हर हाल में खुश हैं, मन मस्त हुआ
22. उदयभानु हँस- हिंदी रुबाइयाँ, धड़कन, सरगम, संत सिपाही, निबंध रत्नाकर, हिंदी के प्रमुख कलाकार|
इंद्रा स्वप्न- महाराष्ट्र का गौरव, वैशाली सुन्दरी
23. उर्मी कृष्ण- मैं यायावर, मातृ ऋण, महल-दुमहले
24. सुनीता जैन- हम मोहरे दिन रात के, इतने बरसों बाद,हो जाने दो मुक्त, कौन सा आकाश, एक और दिन, सफर के साथी, बिंदू, मरणातीत, अनुगूँज, तितिक्षा आदि
25. शकुन्तला बृजमोहन- पवित्र झूठ
26. राधेश्याम शुक्ल- त्रिकाल के गीत, पंखुरी पंखुरी झरता गुलाब, त्रिविधा, एक बादल मन, दरपन वक्त के, वस्तु और कला
27. घमंडीलाल अग्रवाल- चुप्पी की पाजेब, गणित बनती जिंदगी, आओ पापा बात करें, मेरे पिय बाल गीत, बाल कवितावली, बाल गीतांजलि, सुन री सोन चिरैया, बगिया के फूल, कानाबाती कुर्र, मन में गुलमोहर
28. कृष्णलता यादव- अनमोल धरोहर, चेतना के रंग, भोर होने तक, पतझड़ में मधुमास, गरीबी के फायदे, मन में खिला वसंत, दोस्ती की मिसाल, मीठे बोल| 
29. हरेराम समीप- संग्रह-हवा में भीगते हुए, आँधियों के दौर में, कुछ तो बोलो, किसे नहीं मालूम, समय से पहले, जैसे, साथ चलेगा कौन
30. रघुविन्द्र यादव- नागफनी के फूल, वक़्त करेगा फैसला, आये याद कबीर (दोहा संग्रह), मुझमें संत कबीर (कुंडलिया छंद संग्रह), बोलता आइना और अपनी-अपनी पीड़ा (लघुकथा संग्रह)
31. भगवानदास मोरवाल- रेत, काला पहाड़ और बाबल तेरा देस म्हं आदि
32. राकेश वत्स- फिर लौटते हुए, महाकवि के वारिस, पहर एक रोज़ का, अंतिम प्रजापति एवं सफ़ेद सूरज आदि 
33. स्वदेश दीपक- अश्वारोही, मातम, तमाशा, मायापोत, बाल भगवान, कोर्ट मार्शल, जलता हुआ रथ आदि
34. यश गुलाटी- कविता और संघर्ष चेतना, 
35. लीलाधर वियोगी-  सीही का संत, विष्णु पुराण परिचय आदि
36. जयनारायण कौशिक- हिन्दी हरियाणवी उच्चारण भेद, हरियाणवी प्रत्यय कोश , शुद्ध हिन्दी लेखन , बूढ़ सुहागिन आदि|  
37. सुभाष रस्तोगी- एक लड़ाई चुपचाप, तपते हुए दिनों के बीच, बयान मौसम का, समय के सामने, उठ जाग बावले, कत्ल सूरज का, तपते हुए दिनों के बीच, बयान मौसम का , क्रान्तिकारी भगत सिंह, समय के मायने|
38. अमृतलाल मदान- विषगाथा, सिन्धु पुत्र, तलाश जारी है,  टूटता हुआ आकाश, मानुष अमानुष, तथास्तु, एक सिद्धार्थ और, दो पाटन के बीच, बौना |
39. ज्ञानप्रकाश विवेक- अस्तित्व, अलग अलग दिशाएँ, शहर गवाह है, जोसफ़ चला गया, उसकी ज़मीन, पिताजी चुप रहते हैं, इक्कीस कहानियाँ, शिकारगाह, धूप के हस्ताक्षर, आँखों में आसमान आदि|
40. विकेश निझावन-  हर छत का अपना दु:ख, अब दिन नहीं निकलेगा, एक टुकड़ा आकाश, एक खामोश विद्रोह, मेरी कोख का पांडव , महासागर, माँ |
41. माधव कौशिक- ठीक उसी वक्त, सुनो राधिका, लौट आओ पार्थ, किरण सुबह की, सपने खुली निगाहों के, मौसम खुले विकल्पों का, शिखर सम्भावना के, सबसे मुश्किल मोड़ पर|
42. रोहिणी अग्रवाल- आर्किटैक्ट, समकालीन कथा साहित्य आदि|
43. कुमार रविन्द्र- एक और कौन्तेय, पंख बिखरे रेत पर, गाथा आहत संकल्पों की, आहत हैं वन, चेहरों के अंतरीप, लोटा दो पगड़डियां, पंख बिखरे रेत पर, गाथा आहत संकल्पों की एवं अंगुलीमाल, सुनो तथागत, और हमने संधियां की|
44. नन्दलाल मेहता वागीश- संस्कृति तत्त्व-मीमासा
45. बलदेव राज शांत- लगभग 80 कृतियाँ  
46. पवन चौधरी मनमौजी- इंदिरायण, वकालत में अदालत, ठोकर से ठाकुर, न्याय के धाम पर, खामोश! यह अदालत है, व्यंग्य के रंग (व्यंग्य), कानून और हम, कानून की डाल पर, रेल दावा अधिकरण अधिनियम, कानून हाजिर है, मिस्टर इंसाफ़, कानूनश्री, दर्द-ए-दाखिला (उपन्यास), कानून के फूल, कचहरी में कोहिनूर आदि
47. सुनीता जैन- सुनीता जैन सम्रग (चौदह खंड) 
48. डॉ. चन्द्र त्रिखा-  कैसे भूलें आपातकाल का दंश सहित 22 कृतियाँ 
49. रामकुमार आत्रेय- बुझी मशालों का जलूस, बूढ़ी होती बच्ची, आँधियों के खिलाफ, रास्ता बदलता ईश्वर, प्यारे ब्च्चों जैसे दुख, पिलूरे तथा अन्य कहानियाँ, समय का मोल, इक्कीस जूते, आँखों वाले अन्धे, छोटी सी बात आदि 
50. मधुकांत अनूप बंसल- दूसरा निश्चय, गाँव की ओर, लौटने तक, तनी हुई मुठ्ठियाँ, मास्टर जी, वीसीआर बीमार है, परीक्षा क्यों, नया सवेरा आदि

No comments:

Post a comment