HSSC JOBS

Latest Govt. Jobs and Admission updates are available here.

Breaking

27 Nov 2015

सामान्य ज्ञान - हिंदी व्याकरण

प्रश्न- भाषा किसे कहते हैं?
उत्तर- मनुष्य की ऐसी बोली या ध्वनी जो लिखी जा सके तथा समझ में आ सके, भाषा कहलाती है|
प्रश्न- भाषा का मूल रूप क्या है?
उत्तर- मौखिक|
प्रश्न- भाषा के किस रूप को सीखने की आवश्यकता नहीं पड़ती?
उत्तर- मौखिक|
प्रश्न- लिपि किसे कहते हैं?
उत्तर- भाषा की मूल ध्वनियों को लिखकर प्रकट करने के लिए निर्धारित किये गए चिह्नों को लिपि कहा जाता है|
प्रश्न- हिंदी भाषा की लिपि क्या है?
उत्तर- देवनागरी |
प्रश्न- देवनागरी लिपि का विकास किस लिपि से हुआ?
उत्तर- ब्राहमी
प्रश्न- बोली किसे कहते हैं?
उत्तर- क्षेत्र विशेष में बोला जाने वाला भाषा का स्थानीय रूप बोली कहा जाता है|
प्रश्न- व्याकरण से क्या अभिप्राय है?
उत्तर- व्याकरण वह शास्त्र है जिसकी सहायता से भाषा को शुद्ध रूप से पढ़ा, लिखा और बोला जाता है|
प्रश्न- व्याकरण के अंग बताएं|
उत्तर- व्याकरण के चार अंग होते हैं-
१. वर्ण विचार २. शब्द विचार ३. पद विचार ४. वाक्य विचार |
प्रश्न- हिंदी भाषा किस बोली का साहित्यिक रूप है?
उत्तर- खड़ी बोली|
प्रश्न- किस भाषा को भारत की राजभाषा घोषित किया गया है?
उत्तर- हिंदी|
प्रश्न- क्या हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा है?
उत्तर- नहीं |
प्रश्न- कौन सी भाषा दायीं और से बायीं और लिखी जाती है?
उत्त्तर- उर्दू |
प्रश्न- साहित्य से क्या अभिप्राय है?
उत्तर- ज्ञान के संचित कोश को साहित्य कहा जाता है|
प्रश्न- साहित्य के रूप बताएं?
उत्तर- साहित्य के दो रूप होते हैं- १. गद्य साहित्य २. पद्य साहित्य|
प्रश्न- गद्य साहित्य से क्या आशय है?
उत्तर- जब साहित्यकार अपनी बात बिना लय या तुक के साधारण रूप से कहता है तो वह गद्य साहित्य कहताता है| निबंध, कहानी आदि|
प्रश्न- पद्य साहित्य से क्या आशय है?
उत्तर- जब साहित्यकार अपनी अभिव्यक्ति लय और तुक के नियमों में बढ़कर करता ही तो वह पद्य साहित्य है| जैसे- गीत. ग़ज़ल, दोहे, कविता आदि|
प्रश्न- क्या हरियाणवी बोली को भाषा का दर्ज़ा प्राप्त है?
उत्तर- नहीं|